कविता · Depression control · Feelings · Heart · Hindi · Letter · Life Experiences · Love · My words · Poetry · Poetry on life · Positive Thinking · Psychology · Relationship · Rewrite · Self Help · Self Love · Sentimental · Women

ख्वाहिश

दिल के किसी कोने में, एक ख्वाहिश दबी सी है तुमसे मिलने की, तुमसे कुछ सवाल करने की तुम्हारे कुछ सवाल सुनने की, बहुत कुछ है जो अनसुना सा है, कुछ तुम्हारे लिए, कुछ मेरे लिए बस एक शर्त है, अगर तुम मान सको तो, बस शून्य भाव हो आँखो में तुम्हारी, बस शून्य भाव… Continue reading ख्वाहिश

Hindi · Inspiration · Life Experiences · Love · Poetry · Rewrite · Self Help · Women

आहिस्ता चल ज़िंदगी

आहिस्ता चल जिंदगी,अभी कई कर्ज चुकाना बाकी है कुछ दर्द मिटाना बाकी है कुछ फर्ज निभाना बाकी है रफ़्तार में तेरे चलने से कुछ रूठ गए कुछ छूट गए रूठों को मनाना बाकी है रोतों को हँसाना बाकी है कुछ रिश्ते बनकर ,टूट गए कुछ जुड़ते -जुड़ते छूट गए उन टूटे -छूटे रिश्तों के जख्मों… Continue reading आहिस्ता चल ज़िंदगी